शिमला- पहाड़ों की रानी

शिमला को ऐसे ही पहाड़ों की रानी नहीं कहा जाता है। शिमला जिसकी मनोरम वादियां मन को एक ही नज़र में मोहित कर लेती हैं, खासकर गर्मी के मौसम में कौन इसे नकार सकता है। प्राकृतिक दृश्यों से भरे इस पहाड़ी क्षेत्र में अनायास ही मन गुम हो जाता है और बार-बार देखने के लिए प्रेरित करता है। 

उत्तर भारत के सबसे बड़े शहर के रूप में, शिमला हिमाचल प्रदेश की राजधानी है। और यह लाखों-करोड़ों सैलानियों को हर महीने अपनी ओर आकर्षित करता है। अंग्रेजों के समय से ग्रीष्मकालीन राजधानी के रूप में मशहूर यह शहर गर्मी के मौसम में वरदान साबित होता है। तथा विश्व के हर कोने से पर्यटकों को आकर्षित करता है। पहाड़ी क्षेत्रों को और उनके प्राकृतिक तथा शांत वातावरण को तो देखकर यहाँ से हटाने का भी मन न करे।

भारत सैर

यात्रा साधनों की दृष्टि से भी यह शहर सर्वोत्तम है जो २४ घंटे विभिन्न प्रकार के साधनों आसानी से मुहैया करता है। चाहें शिमला-कालका रेलवे हो, टैक्सी सुविधाएँ या अन्य हवाई यात्रायें; सब आसानी से मिल सकती हैं। आप चाहें तो रेलवे से या फिर कोई गाड़ी किराये पर लेकर सारे शहर और आस-पास के पर्यटन स्थलों का भ्रमण कर सकते हैं।

स्थानीय और बाहरी स्थान दोनों जगहें प्राकृतिक सौंदर्य से भरे हैं और आकर्षण के विभिन्न कारणों को प्रस्तुत करते हैं। मौसम के लिहाज़ से यदि केवल हम गर्मी के मौसम में इसके पर्यटकों के बारे में जिक्र करें तो ये नाइंसाफी ही होगी। क्योंकि गर्मी अपेक्षा पर्यटक यहाँ ठंडी में भी काम नहीं आते।

 शिमला के स्थानीय पर्यटन स्थल: – 

  • द रिज
  • द मॉल
  • काली बाड़ी मंदिर
  • जाखू मंदिर
  • राज्य संग्रहालय
  • समर हिल
  • चैडविक जलप्रपात
  • संकट मोचन
  • कालका से शिमला के बीच के स्टेशन
  • तारा देवी मंदिर

 शिमला के आस – पास के पर्यटन स्थल: –

 • कुफरी• चंडीगढ़ • कुल्लू – मनाली • मस्सूरी• डलहौज़ी• अमृतसर• धरमशाला • कुरुक्षेत्र • नैनीताल

Comments are closed.

Up ↑

%d bloggers like this: